मेरे अरमान.. मेरे सपने..


Click here for Myspace Layouts

गुरुवार, 17 मार्च 2011

होली का हुडदंग Holi

 होली का हुडदंग 



(  बुरा न मानो होली है  )

कुंहू -कुंहू  बोले कोयलिया 
हमरे संग होली खेलें सांवरियां !
नीले -पीले और गुलाबी
रंग भरे पिचकारियाँ  !
गाल गुलाबी हो या लाल 
आज रंगे दिलवाली !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  ! 
आगे -आगे राधा दौड़े पीछे किशन-मुरारी !   
द्धारका में होली खेलें रुकमनी और गिरधारी !
हुई रंग से लाल चुनरियां ! 
सुभद्रा हुई मतवाली !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  ! 


लक्ष्मी आई रम्भा आई !
अपने साथ में तोहफे लाई !
गुझियों की बहार लाई !
पिन्नी और पपड़ी भी लाई ! 
हरे रंग की बर्फी खाकर !
हमने भी क्या घूम मचाई !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !

कंचन और तुलजा ने मिलकर !
ठंडी -ठंडी भांग बनाई !
हमने भी एक पैग चढायां ! 
सर पर मदहोशी हैं  छाई ! 
फिर मीठा खा भांग चढ़ाई !
अब तो खैर , नही हैं  भाई ! 
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !


 स्रष्टि ने क्या रूप रचाया !  
फागुन ने क्या रंग जमाया !
सबके दिलो में प्यार समाया !
आज ख़ुशी से दिल भर आया !
रंगो ने सपने सजाए !
इन्द्र धनुष ने रंग दिखाए !
होली ने रंग डाला भाई !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !

(बुरा न मानो होली है )


****************************************
 ** रिमिक्स **   

मेरे ब्लाक के आदरणीय हम सफर आप सबको होली की ढेर सारी शुभ कामनाए ! इस रंगारंग त्यौहार पर मेरा प्यार भरा तोहफा कबुल करे :--      

# बुरा न मानो होली हैं  #




राजीव जी ने रंग जमाया !
अंतर जी ने ब्रश फिराया !
शास्त्री जी ने मल्हार गाया !
केवल राम के मन को भाया !
होली का त्यौहार ये आया !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !

राजेंद्र जी ने राग सुनाया !
प्रभा जी ने ठुमका लगाया !
निर्मला जी ने साथ निभाया !
संगीता जी ने लोरी गाई !
मुकेश जी ने तान लगाई !
राकेश जी ने  'गंगा' बहाई !
सबमें ज्ञान की 'लौ ' जलाई !       
बुरा न मानो होली  हैं भाई !
बुरा न मानो होली हैं  ! 

दुल्हनिया संजय घर आई !
साव जी ने ट्रेन चलाई !
नीरज जी को सीट थमाई !
सुशिल जी ने भांग घुटाई !
सराफे से भांग मंगाई !
सत्यम जी ने भांग चढ़ाई !
अब तो मुश्किल हो गई साईं !
डॉ.साहेब ने चोला बदला !
चित्रों पर है रंग उंडेला !
फोटूग्राफी अपना ली ताई !
बुरा न मानो होली हैं भाई !
बुरा न मानो होली हैं  ! 

लाल -पीले रंगो से रंगकर !
शिखा -शालिनी आई हैं  !
दिव्या जी ने गुझिया तलकर !
सबको दावत दी हैं भाई !
फागुन का महिना जो आया ! 
'मोर' ने अपना नाच दिखाया !
जमाल जी ने  शे'र सुनाया !
पूजा जी ने भजन गाया !
सुरेन्द्र जी के "झंझट" कई !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !

ललित जी अभी से रंग गए !
संतोष जी भी पीछे पड़ गए !
अरविन्द जी भी मगन हो गए !
सुनील जी तटस्थ हो गए !
बोले होली कैसे खेलु !
मैं  तो अकेला हूँ  भाई ! 
कुंवर जी की टोली आई !
अतुल को भी साथ लाई ! 
सबने भांग वही चढ़ाई !
मदहोशी फिर सब पर छाई !
बुरा न मानो होली हैं  भाई !
बुरा न मानो होली हैं  !

वन्दना जी ने गजलें गाई !
मोनिका जी भी पीछे आई !
सदा जी ने फाग उड़ाया !
'हीर' जी का दिल भर आया !
सुषमा जी को टेसू भाया !
राजस्थान की होली न्यारी !
राशी जी को लगे प्यारी ! 
विभा जी को रंगो से यारी !
सबने मिलकर घूम मचाई !
बुरा न मानो होली है भाई !
बुरा न मानो होली है !  
      

(बुरा न मानो होली हैं भाई  )

बुरा न मानो होली है ! यदि किसी की भावनाओं को चोट लगी हो तो दिल से माफ़ी मांगती  हु -- कविता या गीत लिखना मेरे बस की बात नहीं है --बस तुकबंदी कर लेती हु --यदि किसी का नाम रह गया हो तो भी माफ़ करे जितने नाम याद थे लिख दिए -- दिल से होली की बधाई देती हु ...एक बार फिर 'बुरा न मानो होली है भाई..
-----दर्शनकौर





48 टिप्‍पणियां:

अन्तर सोहिल ने कहा…

दुल्हनिया संजय घर आई !
साव जी ने ट्रेन चलाई !
नीरज जी को सीट थमाई !
सुशिल जी ने भांग घुटाई !

मजा आ गया जी,
यह तो होली पर बहुत प्यारी कविता बना दी आपने

प्रणाम

sushma 'आहुति' ने कहा…

बुरा न मानो होली है भाई !
बुरा न मानो होली है ! bhut acchi rachna hai... apko bhi happy holi...

G.N.SHAW ( B.TECH ) ने कहा…

धनोय जी ...बुरा मानाने की क्या बात है....होली ही तो है जब हम सब कुछ कह लेते है... वह भी बड़े प्यार से ! पर हाँ..एक बात खल गयी...मेरे ट्रेन में ...टी.टी.आई. साहब किधर छुट गए !जो भी कहे आपकी लेखनी और ...यह...बड़ा मजा आया..मुझे ही नहीं...मेरी मेम साहिबा को भी , जो बिना हँसे नहीं रह सकी ! आप को साव और परिवार के तरफ से आप के सपरिवार को ...होली की ढेर सारी शुभ कामना !

Rakesh Kumar ने कहा…

जाईये हम नहीं बोलते आपसे
पर रंग लगाना तो नहीं छोडेंगें
और कहना भी नहीं भूलेंगे
होली का त्यौहार आपके और सभी ब्लोगर जन के लिए
रंगमय ,उल्लासमय और शुभ हो .
'मनसा वाचा कर्मणा' को कब तक भुलायेंगी आप?

kumaratul453@gmail.com ने कहा…

MAM MERA NAAM LIKHNE KE LIYE THANKS, AAP APNE BAARE MAIN BHI KUCH LIKHIYE MAM, AAP AUR APKE POORE PARIVAAR KO ATUL KI TARAF SE HOLI KI HARDIK SHUBHKAMNAYE

रश्मि प्रभा... ने कहा…

chutki bhar abeer meri taraf se

संजय भास्कर ने कहा…

आदरणीय दर्शन कौर जी
नमस्कार !
यूं तो हर शब्‍द होली के रंग में भीगा हुआ है ...और यह पंक्ति ...गुलाल के संग एक खूबसूरत सवाल ...होली की शुभकामनाएं ...।।

संजय भास्कर ने कहा…

वाह..वाह...वाह...अप्रतिम रचना...
होली की ढेरों शुभकामनाएं.

डॉ. हरदीप संधु ने कहा…

दर्शन कौर जी,
बुरा न मानो होली है.....
आपको सपरिवार होली की शुभकामनाएं !

RAJEEV KUMAR KULSHRESTHA ने कहा…

हम तो इसी बात का इंतजार कर रहे थे । दर्शन जी के साथ भरपेट गुझियों की मौज ।
पर सरदारनी जी ने तो पेग भांग मीठा पिन्नी पापङ..यानी फ़ुल इंतजाम । खूब खाओ । खूब होली
खेलो ।.. अब जब आप पेग लगा के मस्ती से होली खेल खिला रही हो । तो बुरा कौन
मानेगा । जो माने । वो भी एक पेग लगा ले । मजा आ गया भाई । मुझे तो आपने खाने पीने का
ऐसा चस्का लगाया । फ़ौरन ही आ जाता हूँ । होली है..भई होली है ।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर रचना!
--
उनको रंग लगाएँ, जो भी खुश होकर लगवाएँ,
बूढ़ों और असहायों को हम, बिल्कुल नहीं सताएँ,
करें मर्यादित हँसी-ठिठोली।
आओ हम खेलें हिल-मिल होली।।
--
होलिकोत्सव की सुभकामनाएँ!

shwan ने कहा…

nice post, looks really good!

ललित शर्मा ने कहा…

गजब का काकटेल हैगा भाई
लाल पीले रंग के संग मिठाई
पेग के साथ छनी खूब ठंडाई
होली की बधाई है जी बधाई।

डॉ टी एस दराल ने कहा…

अरे वाह , सारे ब्लॉग जगत में होली के रंग बिखेर दिए ।
बढ़िया है जी ।
होली की बहुत शुभकानाएं ।

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (19.03.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

sagebob ने कहा…

दर्शन जी के ब्लॉग पर आज है होली आयी.
तन मन सब रंग के उन्होंने खूब भांग पिलवाई.
अब नशे में झूमन लागा, मन का पगला 'मोर'
होली है भाई होली है , मचा रहा है शोर.

इस बार होली का मज़ा दुगना हो गया है.
आपने बहुत ही कमाल का लिखा है.
होली की हार्दिक शुभ कामनाएं.
होली पर खींची आप की तस्वीरों का बेसब्री से इंतज़ार रहेगा.

Patali-The-Village ने कहा…

बहुत सुन्दर होली| धन्यवाद्|
आप को होली की हार्दिक शुभकामनाएँ|

: केवल राम : ने कहा…

पूरा ब्लॉग जगत यहाँ आ गया ..आपने क्या रंग जमाया है सबके साथ ..आपकी सी रचना ने मेरा मन मोह लिया ...आपको सपरिवार होली की हार्दिक शुभकामनायें

muskan ने कहा…

आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

आपने तो होली के रंगों में सबको सराबोर कर दिया!
--
मस्त फुहारें लेकर आया,
मौसम हँसी-ठिठोली का।
देख तमाशा होली का।।
--
होली की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

Sunny Dhanoe ने कहा…

Happy Holi

सुरेन्द्र "मुल्हिद" ने कहा…

kya baat hai sardarni sahiba....mazaa aa gaya!

चैतन्य शर्मा ने कहा…

होली की शुभकामनायें...... हैप्पी होली

मदन शर्मा ने कहा…

आदरणीय दर्शन कौर जी नमस्कार!
बहुत सुन्दर रचना!
जरा बाहर निकल के देखें, निकली हम मर्दों की टोली है
पी के भंग लगा के रंग , कैसे करती हंसी ठिठोली है
अन्दर से जरा बाहर निकलें, क्यूँ करती आँख मिचोली है
अर र... र... र.. क्यूँ गुस्सा हो गयीं बुरा न मानो होली है
आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@@समस्त ब्लोक जगत को मेरी होली की शुभकामनाए --सबको मेरा प्रयास और मेरी कल्पना पसंद आई आभार --इसी तरह मेरा होसला बनाए रखे --

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

यह होली तो बहुत मजेदार रही ....

दर्शन जी को सबने मिल घेरा
मुँह पर गुलाल भरा हाथ फेरा
खूब मस्त होली हुई भाई
सबने खूब मिठाई खायी ...

होली की शुभकामनायें

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

bilkul bura nahin manengen ji ....yeh to sahejane layak post hai.....
aapka aabhar......
Holi ki shubhkamnyen.... ( mafi chahti hun hindi nahin likh paa rahi hun)

सुशील बाकलीवाल ने कहा…

लगता है मेरे आने तक मेरी सराफा की भांग भाई लोग सब खेंच गए । कोई बात नहीं अभी चिमनबाग का अंटा बाकि है जो सराफा से ज्यादा गहरा असर करता है । वो भी कम पड जावे तो फिकर नाट. रंगपंचमी पर तो हाथ से घुटी हुई का ही आनन्द चलता है ।
सभी संगी-साथियों को दर्शनकौरजी के घर की इस भंगमिश्रीत होली पार्टी पर बहुत-बहुत बधाईयां और शुभकामनाएँ...

Babli ने कहा…

बहुत सुन्दर और शानदार रचना लिखा है आपने जो काबिले तारीफ़ है! बधाई! आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@सुशिल जी चिमन बाग़ का अंटा इन बेचारे ब्लोक वालो पे भारी पड़ता-- यह तो हम इन्दोरी लालो के ही बस की बात है--वेसे आपने ठीक कहा- 'रंग पंचमी अभी बाकी है मेरे दोस्त !

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

बबली जी पहली बार आने का धन्यवाद |आपका ब्लोक बहुत अच्छा लगा --

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@ अंतर जी ,
@सुषमा जी
@साव जी
@राकेश जी
@अतुल
@रशिम प्रभा जी
@संजय जी
@ हरदीप जी
@शास्त्री जी
@श्वान जी ...धन्यवाद

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@राजीव जी, हमारे साथ रहोगे तो ऐसे ही ऐश करोगे --

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@ललित जी काकटेल में मजा आ गया --

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@ डॉ.साहेब
@सत्यम जी
@ सगेबोब जी
@pataliji
@केवलराम जी
@मुकेश जी
@सन्नी बेटे
@सुरेन्द्र जी
@चेतन्य जी
@मदन जी
@संगीता जी
@मोनिका जी धन्यवाद !

हरकीरत ' हीर' ने कहा…

वाह वाह दर्शन जी आपकी दावत से ही हमें शक हो गया था कि दाल में कुछ काला है ....

इधर आकर देखा तो मोर उलटे पैरों नाच रहा है ...
दिव्या जी गुझिया..लिए बैठी हैं ...
झंझट जी माथा पकते बैठे हैं ...
पूजा जी को सुर नहीं मिल रहे ....
गायक राजेन्द्र जी का अभी इन्तजार है ....
एक हीर ही है जो समय से पहुँच गई ....


बधाईयाँ जी ......

Rakesh Kumar ने कहा…

'रंगों भरी रचना से 'दर्शंन जी'ने, प्रेम रंग में रंगा है साईं
मेरे ब्लॉग पर दर्शन देकर, मुझको मस्त किया रे भाई
क्या इनकी तारीफ़ करूँ अब ,ज्यूँ होली की हुडदंग मचाई
बुरा न मानो होली है भाई, बुरा न मानो होली है भाई'
आपको ,समस्त परिवार को और सभी ब्लोगर जन को एक बार फिर से होली की शुभ कामनाएँ.

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

@हीर जी तुझ बिन जग सूना ...होली है ..

POOJA... ने कहा…

bahut hi pyaari ran-birangi rachna...
Happy Holi... :)

aarkay ने कहा…

आपकी कविता ने खूब रंग जमाया.
रंगों के त्यौहार होली की बहुत बहुत शुभकामनायें !

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

आज सोचा कि क्या किया जाए दिन का पहला काम
तब दिलो दिमाग की सतह पर उभरा आप का नाम

आपको होली की शुभकामनाएँ
प्रहलाद की भावना अपनाएँ
एक मालिक के गुण गाएँ
उसी को अपना शीश नवाएँ

मौसम बदलने पर होली की ख़शियों की मुबारकबाद
सभी को .

अभिषेक मिश्र ने कहा…

आपको भी होली की बधाई.

राजकुमार ग्वालानी ने कहा…

रंगों की चलाई है हमने पिचकारी
रहे ने कोई झोली खाली
हमने हर झोली रंगने की
आज है कसम खाली

होली की रंग भरी शुभकामनाएँ

Kunwar Kusumesh ने कहा…

बहुत सुन्दर होली.
आपको होली की हार्दिक शुभकामनाएँ.

Rakesh Kumar ने कहा…

भूलने का कोई बहाना,नहीं चले अब 'दर्शन' जी
जल्दी सबको लेकर आओ,मेरे ब्लॉग पर रंग बरसाओ
'बिनु सत्संग बिबेक न होई'पर दर्शन देकर,मन का करलो हर्षन जी

Sawai SIingh Rajpurohit ने कहा…

रंग के त्यौहार में
सभी रंगों की हो भरमार
ढेर सारी खुशियों से भरा हो आपका संसार
यही दुआ है हमारी भगवान से हर बार।

आपको और आपके परिवार को होली की खुब सारी शुभकामनाये इसी दुआ के साथ आपके व आपके परिवार के साथ सभी के लिए सुखदायक, मंगलकारी व आन्नददायक हो। आपकी सारी इच्छाएं पूर्ण हो व सपनों को साकार करें। आप जिस भी क्षेत्र में कदम बढ़ाएं, सफलता आपके कदम चूम......

होली की खुब सारी शुभकामनाये........

सुगना फाऊंडेशन-मेघ्लासिया जोधपुर,"एक्टिवे लाइफ"और"आज का आगरा" बलोग की ओर से होली की खुब सारी हार्दिक शुभकामनाएँ..

समय मिले तो ये पोस्ट जरूर देखें.
"गौ ह्त्या के चंद कारण और हमारे जीवन में भूमिका!"
लिक http://sawaisinghrajprohit.blogspot.com/2011/03/blog-post.html

आपका कीमती सुझाव और मार्गदर्शन अगली पोस्ट को और अच्छा बनाने में मेरी मदद करेंगे! धन्यवाद…..

Dorothy ने कहा…

खूबसूरत अभिव्यक्ति. आभार.

नेह और अपनेपन के
इंद्रधनुषी रंगों से सजी होली
उमंग और उल्लास का गुलाल
हमारे जीवनों मे उंडेल दे.

आप को सपरिवार होली की ढेरों शुभकामनाएं.
सादर
डोरोथी.

ZEAL ने कहा…

.

बहुत खुशबूदार और स्वादिष्ट कविता लिखी दर्शन जी । मैंने सारा दिन गुझिया तली प्रेम से , लेकिन जब कमर सीधी करने बैठी तो देखा, सारे ब्लॉगर चट कर चुके हैं सारी गुझिया । मुझे एक भी नहीं मिली।

मैं बुरा कैसे न मानूं , मुझे भी गुझिया चाहिए....

.