मेरे अरमान.. मेरे सपने..


Click here for Myspace Layouts

रविवार, 20 मार्च 2011

गुजर गई होली ( Holi )

** होली **
  
 
(जलने का इन्तजार )

(ओर फिर जल गई होली )  



(होली है !!!)

कल होली का दिन था भाई 
सबने मिलजुल कर हुडदंग मचाई 
टीटू साथ  टुन्नी भी आई 
'शेडो ' पर भी मस्ती छाई 


(जोड़ी रहे सलामत टीटू और टुन्नी की !)


(शेडो की होली )

(शेडो ने भी क्या धूम मचाई )

रोज नही आते ऐसे रंगारंग त्यौहार 
होली के उत्सव में आए लोग हजार 
आए लोग हजार ,सबने हमको रंग डाला 
कह दर्शन कविराज,रोज होलिका आए 
होली के हुडदंग मै दुश्मनी सरपट जाए 
रहे प्यार ही प्यार ,खुशियाँ हिल्लोरे खाए 
अगले साल दुबारा ये दिन जल्दी-जल्दी आए  

(काम्प्लेक्स में होली की बहार ) 

(ऊपर से लिया चित्र नन्हे -मुन्नों का )

(कल चाँद भी अपने पुरे शबाब पर था )


** सभी का आभार **  

19 टिप्‍पणियां:

ब्लॉ.ललित शर्मा ने कहा…

ओए होए,
होली के रंग में रंग लिए हैं सारे
टीटू-टुन्नी-शैडो और चांद सितारे
खूब मचाया सबने मिलकर धमाल
यही तो इस त्यौहार का कमाल

होली की लख लख बधाई

सुरेन्द्र सिंह " झंझट " ने कहा…

चित्रों की प्रस्तुति बहुत सुन्दर....
होली की हार्दिक मंगलकामनाएं |

संजय भास्‍कर ने कहा…

आदरणीय दर्शन कौर जी
नमस्कार !
चित्रों की बहुत सुन्दर प्रस्तुति ..

संजय भास्‍कर ने कहा…

होली की सभी तस्वीरे एक से बढ़कर एक है

Manpreet Kaur ने कहा…

अच्छा पोस्ट है आपका हवे अ गुड डे ! मेरे ब्लॉग पर आये !
Music Bol
Lyrics Mantra
Shayari Dil Se
Latest News About Tech

रश्मि प्रभा... ने कहा…

waah waah, sabhi rangon ki masti mein hain

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

खूबसूरत चित्रों के साथ समापन हुआ त्योहार का ..अब इंतज़ार है अगले साल का

sushmaa kumarri ने कहा…

bhut khubsurat lines ke sath pictures ka add bhut hi accha hai... such me kuch khatti kuch mithi yaado ke sath holi gujar gayi...

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' ने कहा…

वाह क्या खूब नजारे हैं!
होली तो होली,
ब़िया रही आपकी होली!

Rakesh Kumar ने कहा…

होली पर आपक हुडदंग ,भर गया मन में इतने रंग
एक वर्ष कैसे जायेगा,पता भी न लग पायेगा
'दर्शन'जी आपकी मधुर ठिठोली,करेगी नितदिन ही रंगारंग होली
मेरे ब्लॉग पर आपने दर्शन देकर कर दिया है निहाल
मुझ को शेर और श्रीमती जी को सवा शेर बता करती हो कमाल
भूलेंगे नहीं आपकी ठिठोली.

डॉ टी एस दराल ने कहा…

ये टीटू टुन्नी कहाँ से पकडे जी ?
चाँद तो घर के पास ही नज़र आ रहा है ।
चलिए , होली पर खूब मज़े किये । बधाई ।

विशाल ने कहा…

दर्शन जी ,खूब रही आपकी होली,
आखिर दे ही दी आपने चित्रों की गोली.
टीटू और टुन्नी ने तो कमाल किया,
शैडो ने भी दर्शन दे निहाल किया .
अब तो हर बार होली यूं ही मनेगी,
आपकी और हमारी खूब छनेगी.

केवल राम ने कहा…

सब बयां कर दिया कि क्या क्या किया आपने होली के दिन ....यूँ ही सुखद अहसास बना रहे ...आपको पुनः शुभकामनायें

आशुतोष की कलम ने कहा…

holi mangalmay ho..hindi font kam nahi kar raha hai...

डॉ. मोनिका शर्मा ने कहा…

चित्रों की बहुत प्रस्तुति सुन्दर....मन को छू गयी
होली की हार्दिक मंगलकामनाएं |

Shalini kaushik ने कहा…

रहे प्यार ही प्यार ,खुशियाँ हिल्लोरे खाए
अगले साल दुबारा ये दिन जल्दी-जल्दी आए
होली की हार्दिक मंगलकामनाएं

Shabad shabad ने कहा…

सुन्दर चित्र ...
टीटू , टुन्नी और शैडो के साथ खूब रही आपकी होली !

सहज समाधि आश्रम ने कहा…

मैंने पहले ही कहा था । आप पक्के रपोर्टर हो । आज साबित हो गया ।
कह दर्शन कविराज,रोज होलिका आए..आज ये अच्छा लगा ।

विशाल ने कहा…

आदरणीय दर्शन कौर जी,
आपके सनेह के लिए आभार.
आपका सन्देश पहुँच गया है.
आपकी टिप्पणी के उत्तर में कुछ लिखना तो चाहता था लेकिन पाठकों की नज़र से पहले अपनी नज़्म को पढ़ना चाहता हूँ.
चेहरा पहले आईने में अच्छी तरह से देख तो लूं,फिर दिखाऊंगा.:)
सलाम.