मेरे अरमान.. मेरे सपने..


Click here for Myspace Layouts

रविवार, 18 सितंबर 2011

जनम-दिन मुबारक


तुम जिओ हजारो साल 
साल के दिन हो पचास हजार 


मेरा  बेटा --सन्नी ~~~~'लिफाफा छोडूंगा  नहीं ! '



जनम -दिन मुबारक 


मेरी जिन्दगी में हादसों की कोई कमी नहीं हैं ---कभी -कभी इंसान चाहकर भी कुछ कर नहीं पाता  ! मेरे साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ ---जब शादी को ३ साल गुजर गए और मेरी गोद हरी नहीं हुई तो मेरी अम्मा (सास ) का परेशां होना लाजमी था --उन्होंने घर में वाक् -युध्य छेड़ दिया --जिसके परिणाम स्वरूप मुझे घुटने   टेकने  ही पड़े --- मेरे बस  में तो कुछ था नहीं --मैने  हार मान ली थी, पर अम्मा हार मानने वालो में नहीं थी ---

अब शुरू हुआ मेरा लम्बा छोली -यात्रा ' अभियान --यानी हर मंदिर ,मजार ,गुरुद्वारा में जाकर पुत्र-कामना का ढोल बजाना ---मेरी भाभी मेरी सहेली के घर जब चिराग रोशन हुए तो मेरी कत्ल की रात फिर शुरू ...

हर मन्दिर-गुरूद्वारे में जब माथा रगडा  तो 'मन्नतो' का स्टाक जमा होने लगा-- तो,लगा की कहीं भूल न जाऊ और मेरी इसी नादानी का भगवान कोई गलत डिसीजन न ले ले सो, एक बुक में लिखना शुरू किया -- की कहाँ  क्या मन्नत की हैं और उसे कब पूरी करना हैं  --? आज जब सोचती हूँ तो अपनी नादानी पर हंसी आती हें --

खेर,  आखिर में जब मैं  अजमेर अपने भाई के लिए लडकी देखने गई तो माताजी के कहे अनुसार मुझे मजार पर भी जाना था --खुदा को याद दिलवाना था की ' भाई ,यह अत्याचार मेरे ही साथ क्यों ??? 


अजमेर शरीफ की मजार पर जाकर मेरी मामी ने जियारत करवाई और चादर चढाने की मन्नत की  ---मैने भी  अपना माथा रगडा और मन्नत का धागा बंधवाया -- विशवास तो था नहीं ?फिर भी ---

"कई बार हम अपनों के हाथो की कठपुतली बन जाते हैं --और चाहकर भी कुछ कर नहीं पाते .----?"
पर 'शायद' अजमेर जाना मेरा सफल हुआ --मुझे उस अकाल मूरत पर विशवास हुआ --- कुछ दिनों बाद मेरे घर में 'सन्नी' का जनम हुआ ---उसी दिन मेरे देवर सन्नी दयोल की पहली फिल्म देख कर आए थे --फिल्म थी --बे -ताब ! और इस तरह  सन्नी का नामाकरन भी हो गया ---

मेरा बेटा 
(सन्नी के ब्लॉग पर जाने के लिए यहाँ क्लिक करे )


आज सन्नी का जनम- दिन हैं   
18 सितम्बर 1983 



( सन्नी जब ४ महीने का था )




(सन्नी जब 6 महीने का था --मेरी गोद में )


( सन्नी जब ८ महिने का था )



( सन्नी का पहला जनम-दिन--अपने बड़े अंकल के साथ केक काटते हुए  )



( अपने पापा के साथ -- पहले  जनम -दिन पर  )




यह हैं सन्नी का दूसरा जनम-दिन --- मिस्टर, देवर, ननदों और ननदोइयो के साथ 




(अपने  दादा -दादी की गोद में~~~~~~ सन्नी )





(सन्नी का पांचवा जनम-दिन )


(अपने चाचा  की शादी में ~~~सन्नी )




( मेरा पूरा परिवार )




 ( एक फंक्शन में रांझा बना हुआ  ) 




(सन्नी-- जब स्कुल जाने लगा ) 




(शिमला ~~1995 में रोहतांग पर बर्फ में फिसलते हुए   )




( वेश्नो देवी की यात्रा पर ---- 2003 में --- हमारा परिवार )  




(के. सी. कालेज ऑफ़ इंजीनियर कालेज~~~कालेज फंक्शन में   )    


(कालेज की मस्ती ~~~~~  wow)




( Go-karting~~~~~~~~~ सन्नी ..)




(एडवेंचर ~~~~~~~~~सन्नी ) 




( विजिट ऑफ़ ~~~लोनावाला ) 






( पवई (अँधेरी ) अपने आफिस  के बाहर~~~~ सन्नी  !)




(अपने आफिस के साथियों के साथ ~~~सन्नी )






(मुंडा तैयार हैं ~~~~शादी  के लिए )






हैप्पी बर्थ ड़े ~~~~~~सन्नी  

30 टिप्‍पणियां:

जाट देवता (संदीप पवाँर) ने कहा…

बहुत बेताबी के बाद जन्मा आया है सन्नी बाबू,
जन्म से लेकर जवानी तक की पूरी फ़िल्म देख ली है,
अब मुंडे के लिये मुंडी भी तलाश हो जाये तो जरुर बता देना।

Kailash C Sharma ने कहा…

प्रिय सन्नी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं !

H P SHARMA ने कहा…

ye film nahi trailer hi thaa picture abhi baaki hai babu

दर्शन कौर ने कहा…

@ बताना नहीं हैं संदीप तुम्हे ढूँढना हैं ---आखिर बड़े भाई जो हो ..फिर बारात में भी तो चलना हैं .....

Arun ने कहा…

सन्‍नी जन्‍मदिन की मुबारक बाद पर , केवल जन्‍मदिन में केक काटना भर उत्‍सव की इतिश्री नहीं होती है एक नया सकंल्‍प लेना है जीवन के लक्ष्‍य को पाने के लिये और जीवन देने वाले को अहसास भी दिलाना है कि तुम्‍हे जीवन देकर उसने नेक काम किया है। शुभकामनाऐं।

Roshi ने कहा…

aapko bete ke janam din ki bahut dher sibadhai............

रविकर ने कहा…

सन्नी-सन सन सा संवर, सन-सन सुखद सुनील |
सरवन सम सुत समुन्नति, सामृद्धि-सम्मति-शील ||

सामृद्धि-सम्मति-शील, बधाई जन्म दिवस की |
पल पल आगे बढ़ो, फेस पर हरदम मुस्की ||

दे रविकर आशीष, मिले संस्कारी बन्नी ||
मात-पिता को हर्ष, ख़ुशी खुब पावे सन्नी ||

Rajesh Kumari ने कहा…

little cute sunny turned in to too handsome sunny ...laga koi life movie dekh rahe hain.bahut pyaare photographs hain.sunny ko janmdin ki dheron shubhkamnaayen.

Sunil Kumar ने कहा…

सन्नी सन्नी हर जगह सन्नी , उसी सन्नी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई

Rakesh Kumar ने कहा…

वाह! सन्नी वाह! परमात्मा की असीम अनुकम्पा है तू.
जन्म दिन बहुत बहुत मुबारक.
खूबसूरत चित्रों में सन्नी और आप सभी को देखकर बहुत अच्छा लगा.
सन्नी चहेरे से ही नहीं दिल से भी बहुत खूबसूरत है.
ईश्वर से दुआ करता हूँ कि उसकी खूबसूरती हर दिन निखरती ही जाये.

Rakesh Kumar ने कहा…

सन्नी की पोस्ट पर कमेन्ट नहीं हो पा रहा है.

Patali-The-Village ने कहा…

सन्नी को जन्मदिन की हार्दिक बधाई|

रेखा ने कहा…

सन्नी भाई को जन्मदिन की ढेर सारी बधाई .....

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बेटे सन्नी धनोए को जन्मदिवस की शुभकामनाएँ और आपको बधाई हो!

Maheshwari kaneri ने कहा…

प्रिय सन्नी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं !.....

डॉ टी एस दराल ने कहा…

सोहणे मुंडे नु भोत भोत बधाइयाँ जी ।
जन्मदिन मुबारक हो ।

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

many many happy returns of the day dear sunny bhaiya...pta hai aunty mere v ghar ka naam "sunny" hi hai:)

रश्मि प्रभा... ने कहा…

kare duniya pe raj, sare ghar ka hai taj

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

सन्नी को जन्मदिन की बधाई और शुभकामनायें ...

ब्लॉ.ललित शर्मा ने कहा…

सन्नी नूं जन्म दिन दी लख लख बधाइयाँ जी,
पुत्तर ते ब्याण जोगा हो ही गया है जी.
ब्याह दी बधाइयाँ भी एडवांस में ले ल्यो जी. हा हा हा हा

चैतन्य शर्मा ने कहा…

जन्मदिन की बधाई ....

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

सन्नी को जन्मदिन की ढेर सारी बधाई ...

कुश्वंश ने कहा…

सन्नी को जन्मदिन की बधाई और शुभकामनायें .

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

sunny ko janamdin ki bahut bahut badhai aur uski amma ko shubhkamnayen...:)

मीनाक्षी ने कहा…

संयोग है कि आज ब्लॉगवार्ता की बदौलत आज आना हुआ यहाँ... सन्नी को उसके जन्मदिन पर हमारा खूब सारा प्यार और आशीर्वाद ...

संजय भास्कर ने कहा…

सन्नी को जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं !

संजय भास्कर ने कहा…

ढेर सारी बधाई ...

aarkay ने कहा…

बहुत बहुत बधाई और शुभकामनाये.
मुंडे दे वास्ते हुन कुड़ी वि लब्भ ही लवो जी .
माफ़ करना कुछ गलत तो नहीं कह दिया !

नीरज गोस्वामी ने कहा…

HAMAARI BHI SHUBH KAAMNAYEN...BACHCHE KITNI JALDI BADE HO JAATE HAIN NAA...

रविकर ने कहा…

AAPKI Prerna se apni beti ko bhent kar saka bahut-bahut
AABHAAR

सुपुत्री मनु को जन्मदिन की बधाई : 4 अक्टूबर


आश्विन की तिथि पञ्चमी, रहा नवासी वर्ष,
बहन शिवा की आ गई, हर्ष चरम उत्कर्ष |
हर्ष चरम उत्कर्ष, शीघ्र ही लगी डोलने,
ताला - चाभी फर्श, पेटिका लगी खोलने |
कह रविकर हरसाय, ख़ुशी से बीते हरदिन,
माता की नवरात, मास फलदायक आश्विन ||

भाई के संग में शुरू , किया पढाई कर्म |
सीखे थोड़ी देर से, पर भूले न मर्म |
पर भूले न मर्म, शिवा को टक्कर देती |
सीखी बाइक कार, कदम न पीछे लेती |
स्वस्ति-मेधा बहन, सिखा के खुब हरसाई |
प्यार हृदय में गहन, शिवा सा पाई भाई ||


राष्ट्रीय संस्थान में, भाई इलहाबाद,
जीवन में पहली दफा, था गहरा अवसाद |
था गहरा अवसाद, पीलिया को भी झेली ,
मैं एडमिट वेलूर, साल इक पढ़ी अकेली |
माँ का पा आशीष, किया श्रम इम्तिहान में,
एडमिट दुर्गापुर, राष्ट्रीय संस्थान में ||

भाई टी सी आय एल, बहन है टी सी यस |
लड़का-लड़की में भले, भेद हैं करते कस ?
भेद हैं करते कस, साथ खूब क्रिकेट खेली |
भाई की है दोस्त, बहन की बड़ी सहेली |
मात-पिता हम देत, खूब आशीष बधाई |
स्वस्ति-मेधा बहन, शिवा सा प्यारा भाई ||