मेरे अरमान.. मेरे सपने..


Click here for Myspace Layouts

गुरुवार, 14 फ़रवरी 2013

लो फिर बसंत आया...






लो फिर बसंत आया
फूलों पे रंग छाया
पेड़ों पे टेसू आया
लो फिर बसंत आया...!

कलियों ने सिर उठाया
भंवरो ने प्यार जताया
लो फिर बसंत आया...!

जाड़े ने दुम दबाया
मौसम ने फिर तपाया
लो फिर बसंत आया..!

कोयल ने चहचहाया
बुगला भी फडफडाया
लो फिर बसंत आया...!

फागुन ने फाग चढाया 
होली ने रंग उड़ाया
लो फिर बसंत आया...!

सूरज ने भी गरमाया
कोहरा भी कसमसाया
लो फिर बसंत आया..!

चंदा भी मुस्कुराया
तारा भी टिमटिमाया
लो फिर बसंत आया..!

सरसों को फिर उगाया
मन झूम -झूम के गाया
लो फिर बसंत आया...!

फूलों पे रंग छाया
      लो फिर बसंत आया --!!



12 टिप्‍पणियां:

Anupama Tripathi ने कहा…

सुंदर ....बसंतमाई रचना ...शुभकामनायें राजेश जी ...

संजय भास्‍कर अहर्निश ने कहा…

सुन्दर रचना.... पढ़कर दिल खुश हो गया।

संजय भास्‍कर अहर्निश ने कहा…

सुंदर भावनायें सुन्दर नवगीत, बसंत के आगमन पर

Anju (Anu) Chaudhary ने कहा…

आ री मिलके किकली पाइए ....मिलके बसंत गीत गाइए

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति!
आपकी इस प्रविष्टी की चर्चा कल शनिवार (16-02-2013) के चर्चा मंच-1157 (बिना किसी को ख़बर किये) पर भी होगी!
--
कभी-कभी मैं सोचता हूँ कि चर्चा में स्थान पाने वाले ब्लॉगर्स को मैं सूचना क्यों भेजता हूँ कि उनकी प्रविष्टि की चर्चा चर्चा मंच पर है। लेकिन तभी अन्तर्मन से आवाज आती है कि मैं जो कुछ कर रहा हूँ वह सही कर रहा हूँ। क्योंकि इसका एक कारण तो यह है कि इससे लिंक सत्यापित हो जाते हैं और दूसरा कारण यह है कि किसी पत्रिका या साइट पर यदि किसी का लिंक लिया जाता है उसको सूचित करना व्यवस्थापक का कर्तव्य होता है।
सादर...!
बसन्त पञ्चमी की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ!
सूचनार्थ!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

Rajendra Kumar ने कहा…

बसन्त पंचमी की हार्दिक शुभ कामनाएँ!बेहतरीन अभिव्यक्ति.

डॉ टी एस दराल ने कहा…

वाह ! रंग बसंती छा गया।

Chaitanyaa Sharma ने कहा…

प्यारी कविता ...शुभ बसंत

sushma 'आहुति' ने कहा…

बहुत ही प्यारी और भावो को संजोये रचना......

हरकीरत ' हीर' ने कहा…

@ सुंदर ....बसंतमाई रचना ...शुभकामनायें राजेश जी ...

आप राजेश नाम कब से रख लिया दर्शी जी ...:))

हरकीरत ' हीर' ने कहा…

बसंत आगमन की बधाई ...!!

सरिता भाटिया ने कहा…

हम भी चले आए,आपने बुलाया
लो फिर....... बसंत आया
http//guzarish6688.blogspot.com